सम्पत्ति कर सम्बंधी आपत्तियों को लेकर बुलाई गई बैठक में नागरिकों ने चिलियानौला नगर पालिका में किया हंगामा, कहा पालिका गठन के वक्त दस वर्ष तक कर न लेने की सरकार ने की थी घोषणा

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– सम्पत्ति कर सम्बंधी आपत्तियों को लेकर बुलाई गई बैठक में नागरिकों ने चिलियानौला नगर पालिका में हंगामा कर दिया। नागरिकों ने कहा कि पालिका गठन के बाद सरकार ने 10 सालों तक कोई भी कर नहीं लेने की घोषणा की थी, लेकिन पांच साल में ही कर थोपे जा रहे हैं, पालिका की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए नारेबाजी के साथ हंगामा शुरू कर दिया। कर का विरोध किया गया। बाद में संयुक्त मजिस्ट्रेट के समझाने पर लोग शांत हुए।
बता दें कि इन दिनों पालिका क्षेत्र में सम्पत्ति कर के लिए सर्वे कार्य चल रहा है। पालिका की तरफ से गत दिनों आपत्ति सुझावों को लेकर विज्ञप्ति प्रकाशित की। नागरिकों का कहना है कि विज्ञप्ति को लोग देख तक नहीं सके। कहा कि जब सरकार ने 10 सालों तक कर माफ करने की घोषणा की थी, तो अब कर क्यों थोपे जा रहे हैं। वहां लोगों ने जमकर हंगामा काटा और कर नहीं थोपने की मांग उठाई। मामला बढ़ता देख सयुंक्त मजिस्ट्रेट वरुणा अग्रवाल को मौके पर आना पड़ा। उन्होंने लोगों को समझाने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि आपत्ति को लेकर वह शासन स्तर पर भी वार्ता करेंगी और शीघ्र ही नागरिकों के साथ बैठक भी करेंगी।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत विकास संघर्ष समिति के सांकेतिक धरने को एक साल होने में पखवाड़ा भर शेष, लेकिन हुक्मरानों की अनदेखी हैरान करने वाली

वृद्धजन उत्थान समिति, व्यापार मंडल जहित तमाम संगठनों ने सयुंक्त मजिस्ट्रेट वरुणा अग्रवाल को ज्ञापन सौंप कर मामले में सार्थक कार्रवाई करने की मांग उठाई। कर लगाने का विरोध करने का निर्णय लिया। कहा कि निर्वाचित सदस्यों के अनुमोदन के बगैर कर लगाना न्याय संगत नहीं है। कहा कि पूर्व में सभी सभासद कर लगाने के विरोध में थे। कहा कि जब तक पालिका क्षेत्र में सभी विकास कार्य नहीं होते तब तक कर लगाना गलत है। ईओ सक्सेना ने बताया कि कुल 09 आपत्तियां दर्ज हुई।


इस अवसर पर व्यापार संघ अध्यक्ष कमलेश बोरा, हिमालयन वृद्धजन उठान समिति अध्यक्ष चंदन रावत, पूर्व सभासद अरुण रावत, वंशीधर मठपाल, दीपराज, पूरन तिवारी, पूर्व कर्नल टीसी पांडेय, राजू फुलारा, आरसी आर्या, शंकर दत्त बुधोडी, आनन्द पांडेय, ललित मेहरा, जीवन सिंह मेहरा, दीप चंद्राकर आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  जे एंड जे सिटी मांटेसरी स्कूल का वार्षिकोत्सव रंगारंग कार्यक्रम के साथ संपन्न, छात्र -छात्राओं ने विभिन्न देशों की संस्कृति मंच पर उतारी

संपत्ति कर आपत्ति को लेकर बैठक बुलाई गई थी। नागरिकों को कर को लेकर आपत्ति है। पालिका गठन के बाद के सारे नोटिफिकेशन देखे जाएंगे। फिलहाल सर्वे कार्य चल रहा है। लोगों से सहयोग मांगा गया है। कोई भी प्रक्रिया शुरू करने से पहले लोगों के साथ बैठक होगी।

यह भी पढ़ें 👉  कैंट बोर्ड के दो चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रिश्वत लेते पकड़े गए, CBI ने उन्हें रंगे हाथ किया गिरफ्तार


-वरुणा अग्रवाल, सयुंक्त मजिस्ट्रेट, प्रशासक नगर पालिका।