रानीखेत में विशेष समुदाय के युवक द्वारा महिला को भगाने का मामला गरमाया, हिंदू संगठनों ने जुलूस निकाल कर जताया आक्रोश

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: समुदाय विशेष के एक युवक द्वारा यहां द्वाराहाट तहसील के एक गांव की महिला को बरगला कर भगा ले जाने का मामला आज सुबह से ही गर्माया रहा। हिंदू संगठनों ने इस लव जेहाद का मामला बताते हुए नगर में जुलूस निकाला।वहीं इस‌ मामले में बीती रात ही पुलिस ने महिला के साथ युवक को गिरफ्तार कर लिया और धर्मांतरण एक्ट समेत अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उसे न्यायालय में पेश किया।

यह भी पढ़ें 👉  सोमवार से 12 मार्च तक काठगोदाम से ट्रेनों का संचालन रहेगा बंद, कहां से चलेंगी कौन सी ट्रेन जानिए

ज्ञात हो कि शनिवार को यहां पुलिस कोतवाली में द्वाराहाट के एक गांव निवासी व्यक्ति ने आकर बताया कि उसकी पत्नी का रानीखेत के निजी अस्पताल से इलाज चल रहा था ,उसे चिकित्सक ने बीस‌ दिन बाद बुलाया था लेकिन वह‌ ईद के दिन ही रानीखेत चली गई ‌जहां से हेयर सैलून चलाने वाला युवक उसे फुसलाकर अपने साथ ले‌ गया।बताया कि महिला की युवक से मुलाकात पूर्व में राजकीय चिकित्सालय में तब‌ हुई थी जब महिला की मां और‌ युवक का परिजन वहां भर्ती थे। तब‌ दोनों के बीच मोबाइल नंबर का आदान प्रदान हुआ और नजदीकियां बढ़ गई। युवक ने उसका धर्मांतरण करा लिया था और वह युवक के साथ बुर्के में घूम रही थी। बीती रात पुलिस ने युवक को महिला के साथ कचहरी लाइन स्थित घर‌ से गिरफ्तार किया धर्मांतरण एक्ट समेत अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उसे न्यायालय में पेश किया।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी ख़बर -हल्द्वानी हिंसा का मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक गिरफ्तार, दिल्ली से हुई गिरफ्तारी

इधर,आज इस घटना की खबर फैलते ही हिंदूवादी संगठनों में आक्रोश व्याप्त हो गया। हिंदूवादी संगठनों ने नगर में नारेबाजी के साथ जुलूस निकाला आरोपित युवक के सैलून और गांधी चौक पर प्रदर्शन किया। हिंदू संगठनों ने कहा कि सुनियोजित तरीके समुदाय विशेष द्वारा हिंदू महिलाओं को बरगला कर लव जेहाद में फंसाया जा रहा है। रानीखेत में समुदाय विशेष की इस‌ तरह की चेष्टाएं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने स्थानीय निवासियों और पुलिस से भी ऐसे मामले भविष्य में न हो इसके लिए सतर्क रहने को कहा।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद से आज़ादी हासिल करने के लिए 344वें दिन भी धरना रत रहे नागरिक