रात्रि की कडा़के की ठंड के बावजूद लालकुर्ती में जारी है सांप्रदायिक सौहार्द की प्रतीक रही रामलीला का मंचन

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत -निकटवर्ती लालकुर्ती कुमपुर बाजार में इन दिनों ठंड के बावजूद देर रात तक रामलीला का मंचन किया जा रहा है जिसे देखने काफ़ी संख्या में दर्शक पहुंच रहे हैं। लालकुर्ती की रामलीला की विशेषता है कि यहां दशकों से हिंदू-मुस्लिम मिलजुल कर रामलीला मंचित कर भाईचारे का संदेश देते रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  बीर शिवा स्कूल चौखुटिया में पुलिस ने विद्यार्थियों को किया साइबर क्राइम के प्रति जागरूक

लालकुर्ती रामलीला में स्थानीय निवासी इमरान खान पिछले दस‌ वर्षों से जुड़े हैं और दो‌ वर्ष रामलीला कमेटी के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। वे कैकयी और अंगद का किरदार भी बखूबी निभाते आ रहे हैं।इस बार भी उन्होंने इन दोनों भूमिकाओं को निभाया। हर बार की तरह इस बार रावण की भूमिका में अनिल कुमार की भूमिका को सराहा जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत नगर के सौंदर्यीकरण के लिए व्यापार मंडल‌ चयनित स्थानों पर सेल्फी पॉइंट बनाएगा, छावनी परिषद सीईओ से मांगी अनापत्ति

लालकुर्ती रामलीला कमेटी के अध्यक्ष वेद प्रकाश गोरी बताते हैं कि लालकुर्ती की रामलीला शुरू से ही सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल रही है।इस बार भी संजय पंत , रामेश्वर गोयल,सुनील कुमार , विनोद भार्गव , इमरान खान , रवि प्रकाश गोरी , सुन्दर कुमार, भगत सिंह नेगी , शंकर सिंह बिष्ट , कार्तिक नेगी, अंकित रावत, अभिषेक कुमार , गोविंद सिंह नेगी, अमित हर्बोला,तबला वादक वेद प्रकाश गोरी व निर्मल कुमाऱ. हारमोनियम मास्टर निर्मल कुमार , मुन्ना मास्टर मालरोड़ के साथ लालकुर्ती के रहवासियों का सहयोग मिल रहा है।

              

सभी फ़ोटोज रामेश्वर गोयल