कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत पहुंचे रानीखेत,व्यापार मंडल‌ व होटल एसोसिएशन ने पर्यटन संबंधी समस्याओं से कराया अवगत

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत : कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत के आज रानीखेत आगमन पर व्यापार मंडल पदाधिकारियों ने उन्हें पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया और उन्हें रानीखेत क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराते हुए निदान की मांग की।

ज्ञात हो कि पूर्व में रानीखेत व्यापार मंडल ने कुमाऊं कमिश्नर से रानीखेत के पर्यटन व व्यवसायिक समस्याओं मसलन गोल्फ कोर्स को पर्यटकों व आम नागरिकों के लिए पूर्व की भांति खोला जाना,भालू डैम का सौन्दर्यकरण,कालिका-दलमोटी पेंथरपुल जंगल सफारी के प्रोजेक्ट को मूर्तरूप देना,पर्यटन की बढ़ावा देने हेतु रानीखेत में रोप-वे बनवाने की मंजूरी को लेकर नैनीताल में मुलाकात की थी आज‌ उन्हीं समस्याओं का स्मरण कराते हुए व्यापार मंडल पदाधिकारियों ने कुमाऊं कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन देने वालों में ब्लॉक प्रमुख हीरा रावत के साथ व्यापार मंडल रानीखेत के महासचिव संदीप गोयल, उपाध्यक्ष दीपक पंत, महिला उपाध्यक्ष नेहा माहरा, उपसचिव विनीत चौरसिया, कोषाध्यक्ष भुवन पाण्डे, मीडिया प्रभारी सोनू सिद्दीकी आदि लोग उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता

वहीं होटल एसोसिएशन से गोविंद सिंह बिष्ट व दीपक गर्ग ने भी कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत को‌ एक ज्ञापन दिया जिसमें कहा गया कि कैंची धाम में अत्यधिक ट्रैफिक लगने कि वजह से रुट डाइवर्ट करने से रानीखेत आने वाले पर्यटकों की संख्या में भारी गिरावट आ रही है और पर्यटन व्यवसाय पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है।इसके
अलावा रानीखेत-झूलादेवी-चौबटिया मोटर मार्ग को आये दिन सेना द्वारा मनमाने तरीके से बंद करने विश्वविख्यात चौबटिया गार्डन में पर्यटकों की संख्या में भारी गिरावट आ रही है।होटल एसोसिएशन ने कुमाऊं कमिश्नर से उपर्युक्त समस्याओं के निदान की मांग की जिससे रानीखेत के पर्यटन व्यवसाय में इज़ाफ़ा हो सके।

यह भी पढ़ें 👉  वोट डालने हल्द्वानी जा रहे चिकित्सक की कार अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, हुई मौत,