छावनी बहिष्कार और नगर पालिका में शामिल करने की मांग पर धरना 14वें दिन भी,कल रहेगा रानीखेत बंद, आंदोलनकारियों ने किया जनसंपर्क

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: सिविल एरिया को रानीखेत छावनी से पृथक कर पू्र्व सृजित नगर पालिका में शामिल करने की मांग को लेकर गांधी चौक में धरना प्रदर्शन 14वें दिन भी जारी रहा। रानीखेत विकास संघर्ष समिति ने कल 31 मार्च के रानीखेत बाजार बंद को लेकर व्यापारियों के बीच आज जन जागरूकता अभियान भी चलाया।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर की रोडवेज स्थित ट्यूबवेल से नगर में पानी बांटे जाने की मांग

रानीखेत विकास संघर्ष समिति का धरना प्रदर्शन आज भी जारी रहा। आज यू०के०डी० के अल्मोड़ा ज़िला अध्यक्ष दिनेश जोशी ने आंदोलन को अपना समर्थन प्रदान किया।समिति ने जनता से रानीखेत का अस्तित्व बचाने के लिए लड़ी जा रही लड़ाई में बढ़-चढ़ कर भागीदारी करने की अपील की ।धरने के बाद संघर्ष समिति ने टोलियां बनाकर बाजार में जनसंपर्क किया और व्यापारियों से कल के बंद को सफल बनाने की अपील की।
आज धरने में व्यापार मंडल पदाधिकारी, वृद्धजन कल्याण समिति के सदस्य, होटल एसोसिएशन, पत्रकार, व्यापारियों व नागरिकों ने सहभागिता की।