रानीखेत:डंडे से पीटकर दलित लड़की के दांत तोड़ डाले,अब आरोपी की तलाश में पुलिस दे रही दबिश

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत – तहसील के मजखाली क्षेत्र के समीपवर्ती गिनाई गांव में एक दस साल की दलित बालिका के साथ मारपीट की घटना की प्राथमिक रिपोर्ट लिखे जाने के बावजूद कोई कार्यवाही न होने पर विभिन्न संगठनों ने रोष जताया है।आरोप है कि युवक ने बालिका के मुंह पर डंडे से प्रहार कर उसके दांत तोड़ दिए।

राजस्व पुलिस में दर्ज प्राथमिक रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी बालिका की मां को खेत में गाली दे रहा था, बाद में बालिका को डंडे से पीटने लगा और उसने बालिका के मुंह पर प्रहार कर उसके दांत तोड़ दिए। इधर राजस्व पु‌लिस जगह-जगह दबिश देकर आरोपी को पकड़ने के प्रयास कर रही है।लेकिन उत्तराखंड स्वराज मंच सहित अन्य संगठनों ने पुलिस पर मामले को गम्भीरता से न लेने का आरोप लगाते हुए रोष व्यक्त किया है।
मिली जानकारी के अनुसार गिनाई गांव निवासी रमेश राम ने राजस्व पुलिस में दर्ज प्राथमिकी में कहा है कि दो जुलाई के दिन इसी गांव के निवासी नीरज सिंह पुत्र खीम सिंह ने जातिसूचक शब्दों का प्रयोग कर उनके बच्चों के साथ मारपीट की। पत्नी शांति देवी खेत में कार्य कर रही थी, पहले उसके साथ गालीगलौच की, बाद में उनकी 10 वर्षीय बालिका दीपिका पर डंडे से प्रहार कर दिया। इससे उसके मुंह के दांत टूट गए और होठ फट गए। रिपोर्ट में कहा कि आरोपी बार- बार उन्हें भी जान से मारने की धमकी देता है। इस मामले में तीन जुलाई को उप राजस्व निरीक्षक के यहां रिपोर्ट दर्ज कराई गई। राजस्व पुलिस ने 323, 325, 504, 506 और एससी एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। इधर, उत्तराखंड जन स्वराज मंच के मुख्य संयोजक कृपाल राम आर्य ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताया है, कहा कि राजस्व पुलिस जान बूझकर आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर रही है, राजस्व पुलिस की इस हीला हवाली के विरूद्ध मंच आंदोलन करेगा, कहा कि यह मामला सोमेश्वर विधानसभा का है। वहां की कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या के लिए भी यह साख का मामला है।
इस बीच तल्ली रियूनी के उप राजस्व निरीक्षक नितिन जिरवान ने कहा है कि रमेश राम ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए उसकी बेटी के मुंह में डंडे से मारकर दांत तोड़ दिए। सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। आरोपी नीरज सिंह को पकड़ने के लिए बार -बार दबिश दी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.