रानीखेत की बेटी ने किया नाम रोशन,मैक्रोमोलिक्यूलर केमिस्ट्री प्राग, चेक गणराज्य में शोध पद पर हुआ चयन

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत की बेटी ने क्षेत्र व प्रदेश का नाम रोशन किया है।डा. मोनिका का मैक्रोमोलिक्यूलर केमिस्ट्री प्राग, चेक गणराज्य में शोध पद पर चयन हुआ है। उन्होंने प्रोफेसर राजेंद्र सिंह नैनो साइंस एंड नैनोटेक्नोलॉजी सेंटर रसायन विज्ञान विभाग डीएसबी परिसर कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल से प्रोफेसर नंद गोपाल साहू की देखरेख में पीएचडी की डिग्री पूरी की है। इससे पहले उन्होंने रानीखेत से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की और उसके बाद उन्होंने डीएसबी परिसर नैनीताल से इंस्पायर फेलो के रूप में स्नातक और स्नातकोत्तर की पढ़ाई पूरी की।

यह भी पढ़ें 👉  कमाल.. शिक्षिका ने अंतर्राष्ट्रीय तो स्कूल के बच्चों ने राज्य स्तरीय खेल में जीते गोल्ड व सिल्वर मेडल, बधाई दीजिए ताड़ीखेत की शिक्षिका यशोदा कांडपाल को

अपनी पीएचडी के दौरान उन्होंने कैंसर के इलाज के लिए ग्रेफीन ऑक्साइड आधारित नैनो कैरियर्स के विकास पर काम किया है। उन्होंने सीएसआइआर नेट- जेआरएफ, गेट , यू -सेट परीक्षाएं उत्तीर्ण करने के साथ-साथ कई शोध पत्र व पुस्तक अध्याय प्रकाशित किए हैं, ,जिसके लिए उन्हें अपने शोध क्षेत्रों में अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिकों मंचों से कई पुरस्कार प्राप्त हुए हैं ।चेक गणराज्य में डा.मोनिका टिश्यू इंजीनियरिंग अनुप्रयोगों के लिए पालीमर आधारित कम्पोजिट के‌ विकास पर शोध करेंगी। मोनिका ने अपनी सफलता का श्रेय अपने पिता श्री रघुराज सिंह मटियानी माता श्रीमती नीलम मटियानी एवं परिवारजनों ,अपने पीएचडी पर्यवेक्षक प्रोफेसर नंद गोपाल साहू व श्रीमती कोहली साहू सभी शिक्षकों, डॉ मनोज कड़ाकोटी, सभी सीनियर्स सहयोगियों ,जूनियर्स को दिया है ।उनकी सफलता पर कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एनके जोशी, कुलसचिव दिनेशचंद्र, रसायन विज्ञान विभागाध्यक्ष व विज्ञान संकाय अध्यक्ष प्रोफेसर ए बी मलकानी, प्रोफेसर ललित तिवारी,और प्रोफेसर नंद गोपाल साहू और समस्त गुरुजनों ने उन्हें इस सफलता पर शुभकामनाएं और बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *