उत्तराखंड के वरिष्ठ आईएफएस अधिकारी पर महिला कर्मचारी से छेड़छाड़ का आरोप, पद‌ से हटाया गया, विभागीय जांच शुरू

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के एक वरिष्ठ आईएफएस अफसर पर छेड़छाड़ का आरोप लगा है आरोप लगने के बाद विभाग ने उनके पद से हटाते हुए वन विभाग के मुख्यालय ऑफिस से अटैच कर दिया गया है । जिस पर अब विभागीय जांच शुरू हो गई है. सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के अनुसार विभागीय स्तर पर बनाई गई विशाखा कमेटी भी इस पर अलग से जांच करेगी. खास बात ये है कि आईएफएस अधिकारी पर गंभीर आरोप लगने के बाद प्रदेशभर की नौकरशाही में आज यह मुद्दा चर्चा का विषय बना रहा.

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता

आईएफएस अधिकारी पर पर आरोप है कि उन्होंने विभाग में ही तैनात एक महिला कर्मचारी ने छेड़छाड़ का आरोप लगाया है।प्रमुख सचिव वन एवं पर्यावरण आरके सुधांशु ने महिला की शिकायत के आधार पर बिना देर किए यह कार्रवाई करते हुए देहरादून मुख्यालय से अटैच किया है.
बताया जा रहा है की आईएफएस अधिकारी महत्वपूर्ण पद पर तैनात थे जानकारी देते हुए प्रमुख सचिव आरके सुधांशु ने बताया है की महिला संबंधी अपराध बेहद गंभीर विषय है और ऐसे मामले में लिखित शिकायत मिलते ही कार्रवाई की गई है साथ ही मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं.
इस मामले को लेकर विभाग में सन्नाटा छाया हुआ है. कोई भी इस मामले को लेकर कुछ भी कहने को तैयार नहीं है. बताया गया है कि यह युवती इसी विभाग में जेआरएफ यानी जूनियर रिसर्च (JRF) फेलो के रूप में काम कर रही थी.