इस्काॅन अब रानीखेत में निर्मित जैविक कृषि उत्पादों को खरीद कर “हरिबोल” नाम से अपने मंदिरों में करेगा सप्लाई

ख़बर शेयर करें -

इस्काॅन अब रानीखेत में निर्मित जैविक कृषि उत्पादों को खरीद कर “हरिबोल” नाम से अपने सभी मंदिरों में सप्लाई करेगा।गत दिवस मुम्बई में रानीखेत की दीर्घायु हिमालयन ऑर्गेनिक्स के जैविक कृषि उत्पादों का उद्घाटन महाराष्ट्र के राज्यपाल एवं उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री श्री भगत सिंह कोश्यारी की गरिमामयी उपस्थिति में किया गया ।

यह भी पढ़ें 👉  छावनियों की जनता से आपत्ति व सुझाव मांगने के बाद छावनी भूमि प्रशासन नियम में ये हुआ संशोधन,रक्षा मंत्रालय ने अधिसूचना भी जारी की

राज्यपाल श्री भगत सिंह कोश्यारी की उत्तराखंड के किसानों के उत्पादों को बाजार दिलाने की सराहनीय पहल के क्रम में उत्तराखंड के जैविक कृषि उत्पादों को इस्काॅन द्वारा खरीद कर अपने सभी मंदिरों में “हरी बोल” के नाम से सप्लाई करने का निर्णय लिया गया ।इस अवसर पर इस्कॉन मुंबई में sustainable agriculture and organic farming पर बोलते हुए गिनीज़ रिकार्ड बुक में नाम दर्ज करा चुके रानीखेत क्षेत्र के प्रगतिशील किसान गोपाल दत्त उप्रेती ने उत्तराखंड में जैविक खेती की संभावनाएं अवसर मिला।उन्होंने उत्तराखंड के किसानों की तरफ से इस्काॅन का आभार व्यक्त किया।

यह भी पढ़ें 👉  स्व. जय दत्त वैला पी जी कालेज में समारोहपूर्वक मनाया गया एनसीसी दिवस, कैडेट्स ने पेश किए देश भक्ति कार्यक्रम

समारोह में इस्काॅन के श्री ब्रजविलास दास प्रभु जी,श्री गोपाल कृष्ण गोस्वामी जी महाराज,श्री गौरंगदास जी,हरी बोल के CEO श्री यचनीत पुष्करना जी,आशीष चौहान जी, श्री टी सी उप्रेती जी जिन्होंने उत्तराखंड से पलायन रोकने तथा ग्रामीण अर्थव्यस्था पर अपना पक्ष रखा,के साथ साथ राष्ट्रीय, अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के लोग उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  CARE' संस्था द्वारा हिमांशु पाठक व कमल गोस्वामी को 'फोटोग्राफर ऑफ रानीखेत' सम्मान के लिए चुना गया, शीघ्र किया जाएगा सम्मान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *