रक्षा संपदा विभाग द्वारा 13 मजारों को‌ चिह्नित किए जाने के बीच कालू सैयद‌ बाबा का 49 वां समारोह शुरू ,मजार पर सामूहिक चादर चढ़ाने उमड़े लोग

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: रक्षा संपदा विभाग द्वारा नगर की तेरह मजारों के रक्षा भूमि पर बने होना चिह्नित किए जाने के बाद तमाम चर्चाओं के बीच यहां हजरत कालू सैयद बाबा की मजार‌ पर 49वां उर्स समारोह शुरू हो चुका है।बीते दिवस यहां मजार पर कुरान ख्वानी हुई और आज देर शाम गिलाफ ख्वानी की रस्म अदा की गई जिसमें जायरीनों के अलावा सियासतदां भी शामिल हुए ।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद से मुक्ति के लिए 341वें दिन भी धरनारत रहे नागरिक, गांधी पार्क में रही नारेबाजी की गूंज

आज देर शाम हजरत कालू सैयद बाबा की मजार पर चादर चढ़ाई गई। बाबा की मजार पर मत्था टेकने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद रहे। गुलजार मंजिल में तकरीर के बाद गाजेबाजे के साथ चादर लाई गई, जिसे बाद में बाबा की मजार पर चढ़ाया गया।

चादर पोशी में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा, पूर्व सांसद प्रदीप टम्टा, उत्तराखंड महिला आयोग उपाध्यक्ष ज्योति साह मिश्रा, शौकत अली,अजय कुमार बबली सहित तमाम लोग शामिल हुए।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद से मुक्ति के लिए 341वें दिन भी धरनारत रहे नागरिक, गांधी पार्क में रही नारेबाजी की गूंज

49वें उर्स समारोह के दूसरे दिन भी खरीदारी के लिए भारी संख्या में लोग पहुंचे थे। बाबा की मजार पर सुबह से ही चादर चढ़ाने वालों की भीड़ लगी रही। देर शाम गुलजार मंजिल में तकरीर प्रवचन का आयोजन हुआ, जिसके बाद बाबा के जयकारे के साथ चादर लाई गई। इससे पूर्व पहली रात्रि को मजार परिसर में कवि सम्मेलन और मुशायरे का आयोजन किया गया। रात से मजार परिसर में देश भर से आए जाने माने कव्वाल अपनी अपनी प्रस्तुति से लोगों का मन मोहेंगे। उर्स समारोह 28 मई की सुबह कुल शरीफ के साथ संपन्न होगा। मजार के खादिम मो. मोहसिन ने सहयोग के लिए सभी का आभार जताया है।

यह भी पढ़ें 👉  छावनी परिषद से मुक्ति के लिए 341वें दिन भी धरनारत रहे नागरिक, गांधी पार्क में रही नारेबाजी की गूंज