जिलाआयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी ने कोआपरेटिव ड्रग फैक्ट्री का निरीक्षण कर फैक्ट्री की दशा सुधारने का दिया आश्वासन

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत : जिलाधिकारी अल्मोड़ा के निर्देश पर जिला आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी अल्मोड़ा डॉ. निवेदिता उप्रेती ने यहां कोआपरेटिव ड्रग फैक्ट्री की दशा- दिशा जानने एवं पुनर्संचालन हेतु निरीक्षण किया।

डॉ. उप्रेती ने बताया कि जिलाधिकारी कोआपरेटिव ड्रग फैक्ट्री की स्थिति को सुधारने के लिए अत्यन्त गंभीर है। उन्होंने बताया कि आयुष विभाग जिलाधिकारी के निर्देशन में शीघ्र ही यहां एक हैल्थ एवं वेलनेस सेन्टर खोलने की योजना पर कार्य कर रहा है, जिसे पर्यटन से जोड़कर इस क्षेत्र को आगे बढ़ाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  बाबा के वेश में अवैध चरस की तस्करी कर रहे दो व्यक्तियों को पुलिस ने कैंची के समीप एक किलो चरस के साथ किया गिरफ्तार

कैन्ट बोर्ड के पूर्व उपाध्यक्ष एवं कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष मोहन नेगी ने बताया कि पूर्व में भी डॉ मुकेश कुमार गुप्ता के निर्देशन में एक टीम ने ड्रग फैक्ट्री का दौरा कर यहां 50बेड के आयुर्वेदिक चिकित्सालय की संभावनाएं तलाशी थी, जिस प्रकरण पर उन्होंने विधायक प्रमोद नैनवाल को पत्र लिखकर चिकित्सालय खोलने हेतु मुख्यमंत्री को इस बावत अवगत कराने हेतु अनुरोध किया था। श्री नेगी ने डॉ. उप्रेती को फैक्ट्री प्रबंधन की ओर से इस हेतु हरसंभव मदद का आश्वासन दिया । कर्मचारी यूनियन के शिष्ट मंडल ने भी डॉ. उप्रेती से मिलकर फैक्ट्री की समस्या को जिलाधिकारी के निर्देशन में सफल समाधान की आशा व्यक्त की। डॉ. उप्रेती के साथ भारतीय चिकित्सा परिषद के सदस्य डॉ अजीत तिवारी, डॉ संजय श्रीवास्तव, डॉ मुकेश कुमार गुप्ता, डॉ जितेन्द्र पपनोई, डॉ शोभा आदि टीम में शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *