चिलियानौला स्थित हैड़ाखान मंदिर देसी-विदेशी श्रद्धालुओं से गुलजार, शारदीय नवरात्र में चल रहा जगदम्बा महायज्ञ

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत – यहां चिलियानौला स्थित हैड़ाखान मंदिर अपार आस्था का केंद्र है। यही वजह है कि बाबा के इस धाम में देश से ही नहीं विदेशों से भी श्रद्धालु शारदीय नवरात्र में मनोरथ सिद्ध करने हेतु इस बार भी काफी संख्या में पहुंचे हैं और जगदम्बा महायज्ञ में भाग ले रहे हैं।


यूं तो बाबा हैड़ाखान मंदिर में योग, साधना और चमत्कारों की अनुभूति करने के लिए साल भर श्रद्धालु पहुंचते हैं लेकिन शारदीय नवरात्र में यहां खासी चहल-पहल रहती है। मंदिर परिसर में जगदम्बा महायज्ञ और भजन कीर्तन से भक्तिमय वातावरण बना रहता है।

यह भी पढ़ें 👉  वोट डालने हल्द्वानी जा रहे चिकित्सक की कार अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, हुई मौत,

बाबा हैड़ाखान की महिमा अपरंपार है। लोक कल्याण के लिए उनके चमत्कारों और योग साधना से प्रभावित उनके भक्त देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी हैं। बाबा से जुड़ी आस्था का ही प्रभाव है कि बड़ी संख्या में विदेशों से युवक-युवतियां बाबा के धाम में नए जीवन की शुरुआत करने पहुंचते हैं। यहां सात जन्म के रिश्ते में बंधकर बाबा के प्रति आस्था जाहिर करते हैं। इसके बाद विदेशी जोड़ों का विधि विधान से नामकरण संस्कार भी होता है।

रानीखेत चिलियानौला स्थित बाबा के धाम में हर साल इटली, जापान, अमेरिका, स्पेन, कनाडा, फ्रांस समेत विश्वभर से लोग पहुंचते हैं। मंदिर में शारदीय नवरात्र के अवसर पर हर साल जगदंबा महायज्ञ का आयोजन होता है। इस दौरान अग्नि को साक्षी मानकर विदेशी युवक और युवतियां हिंदू रीति रिवाज से दांपत्य जीवन में बंधते हैं। चिलियानौला में हैड़ाखान मंदिर की स्थापना 1973 में हुई थी।

यह भी पढ़ें 👉  भतरौंजखान- भिकियासैंण मार्ग में दर्दनाक हादसा,बाइक सवार युवक की मौत,एक घायल

बाबा हैड़ाखान के भक्तों में आम जन ही नहीं बल्कि देश दुनिया की कई बड़ी हस्तियां भी शुमार हैं। जिनमें बॉलीवुड के सुपर स्टार शम्मी कपूर, प्रियंका चोपड़ा, राजेश पायलट भी शामिल हैं। बाबा के प्रति ये अगाध आस्था ही थी कि शम्मी कपूर ने 1982 में अपने पुत्र निक्की कपूर का विवाह हैड़ाखान मंदिर भीमताल में ही किया था। इस दौरान राज कपूर से लेकर शशि कपूर का पूरा परिवार हैड़ाखान में रहा। 1975 में शम्मी कपूर ने हैड़ाखान मंदिर में आने पर गेरुवा वस्त्र और रुद्राक्ष की माला धारण की थी। इस बार भी हैड़ाखान मंदिर देसी विदेशी भक्तों से गुलजार है।आज दुर्गाष्टमी के अवसर पर हुए पूजा अनुष्ठान आयोजन में विधायक डॉ प्रमोद नैनवाल भी शामिल हुए।

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता

फ़ोटोज रामेश्वर प्रसाद गोयल