सुखद खबरः एक ऐसा अवर अभियंता जो श्रमिक बनकर स्वयं भी करता है कार्य

ख़बर शेयर करें -

रानीखेतः एक सिविल अभियंता का कार्य समाज के लिए बुनियादी ढाँचे के निर्माण से संबंधित होता है।अकसर आपने अभियंता को परियोजना का खाका बनातेऔर उसे श्रमिकों से कार्यरूप दिलाते देखा होगा लेकिन ऐसे कम ही अभियंता देखे होंगे जो श्रमिकों के साथ स्वयं कार्य करते हों।
लेकिन आज ऐसे ही एक अवर अभियंता को देखने का अवसर मिला जो स्वयं हाथ में गेंदी लिए दोपहर कीचुभतती धूप में गड्ढा खोद रहा था।यहां बात हो रही है रानीखेत चिलियानौला नगर पालिका परिषद में अवर अभियंता मुकुल सती की।स्थानीय लोग बताते हैं कि उनके यहां कार्य भार लेने के बाद विकास कार्यों ने गति पकडी़ है।
दोपहर की पसीना बहाने को विवश करती धूप के बीच आज उपरोक्त अवर अभियंता को श्रमिकों के साथ आज स्वागत स्ट्रीट बोर्ड के भारी पोल के लिए खुद गड्डा खोदते देख सुखद आश्चर्य हुआ कि ऐसे दौर में जब अभियंता का पेशा रिश्वतखोरी और अकर्मण्यता के लिए अखबारों की आए दिन सुर्खियां बनता है क्या कोई अवर अभियंता अपने कार्य के प्रति इतना निष्ठ और मेहनतकश भी हो सकता है? सच में देश -प्रदेश थोथे नारों से नहीं अपितु मेहनतकश युवा अधिकारियों -कर्मचारियों की ऐसी सोच से बदलेगा।समाज को भी इन्हें प्रोत्साहित करना चाहिए।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.