सिविल एरिया को छावनी से पृथक करने की मांग पर धरना-प्रदर्शन ३१वें दिन, सीएम धामी के आश्वासन के मद्देनजर आंदोलनकारियों को मंगलवार की कैबिनेट बैठक का इंतज़ार

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत : छावनी सिविल एरिया को रानीखेत छावनी परिषद से पृथक कर रानीखेत -चिलियानौला नगर पालिका परिषद में शामिल करने की मांग पर रानीखेत विकास संघर्ष समिति का धरना प्रदर्शन गाँधी पार्क में 31वें दिन भी जारी रहा। अब नागरिकों की नज़र मंगलवार 18अप्रैल को होने वाली धामी कैबिनेट की बैठक पर टिकी हैं।

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता

धरना स्थल पर हुई बैठक में तय हुआ कि कल 17अप्रैल को संयुक्त मजिस्ट्रेट के माध्यम से प्रधानमंत्री को रानीखेत के सिविल एरिया को रानीखेत-चिलियानौला नगरपालिका में समायोजित करने हेतु एक ज्ञापन भेजा जाएगा। कल सोमवार को धरना भी दिन में 12:00 बजे से रहेगा।इधर नागरिकों की नज़र मंगलवार 18अप्रैल को होने वाली धामी कैबिनेट की बैठक पर टिकी हैं। बता दें कि संघर्ष समिति के शिष्टमंडल को सीएम धामी ने छावनी के सिविल एरिया को छावनी परिषद से पृथक कर रानीखेत -चिलियानौला नगर पालिका परिषद में समायोजित करने का प्रस्ताव कैबिनेट से पास कर केंद्र सरकार को भेजने का आश्वासन दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  भतरौंजखान- भिकियासैंण मार्ग में दर्दनाक हादसा,बाइक सवार युवक की मौत,एक घायल

आज धरने में व्यापार मंडल पदाधिकारी, रानीखेत वृद्धजन कल्याण समिति के सदस्य, वरिष्ठ नागरिक, व्यापारी, होटल एसोसिएशन सदस्यों सहित राजनीतिक , गैर राजनीतिक संगठनों ने सहभागिता की।

यह भी पढ़ें 👉  वोट डालने हल्द्वानी जा रहे चिकित्सक की कार अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, हुई मौत,