रानीखेत मिशन इंटर कॉलेज में चिकित्सक पिता की तरह गोपनीय मदद के लिए पुत्र ने भी आगे बढ़ाया हाथ यूनिफार्म के लिए 20हजार दिए

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत- हमेशा गोपनीय तरीके से मदद के‌ लिए तत्पर रहने वाले मिशन इंटर कॉलेज रानीखेत के पूर्व छात्र रहे दिवंगत चिकित्सक के बाद उनके पुत्र भी लगातार विद्यालय के निर्धन छात्र- छात्राओं की मदद करते आ रहे हैं।
ध्यातव्य है चिकित्सक पद पर सेवा देने के बाद मुख्य चिकित्सा अधिकारी के पद से सेवा निवृत्त हुए एक चिकित्सक विगत वर्षों से गुप्त तरीके से मिशन इंटर कॉलेज के छात्र-छात्राओं की मदद करते आ रहे थे, उनके स्वर्गवास के बाद उनके पुत्र द्वारा विद्यालय के छात्र-छात्राओं की मदद की जाती रही है। इसी क्रम में उनके पुत्र एवं परिवार द्वारा छात्र -छात्राओं हेतु 5 स्कूल यूनिफॉर्म, शुल्क तथा छात्र-छात्राओं हेतु 30 ट्रैकसूट के लिए ₹20000 का दान विद्यालय को दिया है। विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री सुनील मसीह द्वारा उनका धन्यवाद व्यक्त गया। प्रधानाचार्य ने बताया कि मददगार पिता की तरह पुत्र ने भी अपना नाम गुप्त रखने का अनुरोध किया है। यह बात प्रधानाचार्य ने किताब कौतिक में प्रतिभाग करने वाले छात्र -छात्राओं को पुरस्कृत करते हुए कही। प्रधानाचार्य ने छात्र -छात्राओं को प्रमाण पत्र वितरित किए। उन्होंने सफल आयोजन के लिए मंच से किताब कौतिक आयोजन समिति और सांस्कृतिक समिति के अध्यक्ष विमल सती के प्रयासों को सराहते हुए सफल आयोजन के लिए उन्हें बधाई दी।

यह भी पढ़ें 👉  जवाहर नवोदय विद्यालय ताड़ीखेत की कैडेट भूमि सिंह को राज्यपाल ने सराहनीय कार्य के लिए दिया स्मृति चिह्न व प्रशंसा पत्र