उक्रांद ने बीजेपी सरकार पर लगाया बेरोजगारों से छल करने का आरोप

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड क्रांति दल के निवर्तमान कार्यकारी अध्यक्ष संयोजक विशेषाधिकार समिति हरीश पाठक ने प्रदेश की बीजेपी सरकार को घेरते हुए कि जिस तरह प्रदेश के हालात चल रहे हैं आम जनमानस अपने को ठगा हुआ महसूस कर रहा है राज्य के बेरोजगारों के साथ लगातार छलावा किया जा रहा है वहीं दूसरी ओर संविदा के माध्यम से अपने चहेतों को विधानसभा/सचिवालय में पिछले दरवाजे से भर्ती कराया जा रही है। नर्सिंग स्टाफ की भर्ती तीन बार कैंसिल कर दी गई है। प्राविधिक शिक्षा परिषद वार वार परीक्षा की तिथि घोषित करता है उसके बाद कैंसिल कर देता है। बेरोजगार युवाओं के साथ भद्दा मजाक और उनके अधिकारों का हनन है। चिकित्सा चयन आयोग के होने के बावजूद प्राविधिक शिक्षा परिषद से एग्जाम कराने का क्या औचित्य है।
चिकित्सा चयन आयोग के दफ्तर का किराया ही लाखों रुपए महीने पर है उसके बावजूद चिकित्सा चयन आयोग से नर्सिंग की भर्ती नहीं कराई जा रही है। दून अस्पताल के हालात आए दिन अखबार में प्रकाशित हो रहा समुचित स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिल पा रही है तो इतने बड़े मेडिकल कॉलेज का क्या फायदा होगा। इतने बड़े मेडिकल कॉलेज में न्यूरो फिजिशियन नहीं है। राज्य की स्वास्थ्य सेवाएं बद से बदहाल हो चुकी है। मरीजों की परेशानी देखने वाला कोई नहीं है तीमारदार अपने मरीजों को दिखाने के लिए दरबदर अस्पतालों में भटक रहे हैं। स्वास्थ्य महकमे के कान पर जूं भी नहीं रेंग रही है। आज प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। हरिद्वार में 3 बैन के किराए के रूप में सरकार 29 करोड़ का भुगतान कर चुकी है। सिर्फ सरकारी धन की बंदरबांट के अलावा सरकारी तंत्र का कोई काम नहीं है। प्रदेश के चिकित्सा स्वास्थ्य केंद्रों में डॉक्टर फार्मेसिस्ट और नर्सिंग स्टाफ नहीं है जिस ओर सरकार का ध्यान नहीं जा रहा है कुछ अस्पताल पीपीपी मोड में दिए गए थे उन पर भी सरकार कोई कार्रवाई नहीं कर पा रही है सरकार न जाने किस दवाव में काम कर रही है समझ के परे है। बरसात के कारण अधिकतर सड़कें बंद हुई है वह अभी तक नहीं खुल पा रही हैं। अधिकारीगण मीटिंग सिटिंग तक ही सीमित रह गए हैं।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.