भाजपा नेता पर रोड टेंडर निरस्त कराने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने फूंका पुतला,भाजपा नेता ने कहा टेंडर प्रक्रिया में हुई थी धांधली

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत:महरखोला रोड निर्माण में अड़ंगा लगाने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने गांव में पूर्व प्रमुख भाजपा नेता धन सिंह रावत का पुतला फूंका। ग्रामीणों ने कहा कि मुख्य सड़क तक पहुंचने में ग्रामीणों के पसीने छूट जाते हैं, ‌ग्रामीण कई किमी पैदल चलना पड़ रहा है, लेकिन भाजपा के लोगों ने ब्लाक मुख्यालय में रोड निर्माण के टेंडर निरस्त कराने का कार्य किया है। इधर पूर्व ब्लाक प्रमुख भाजपा नेता धन सिंह रावत ने टेंडर प्रक्रिया में सरेआम धांधली का आरोप लगाया है।
उल्लेखनीय है कि महरखोला गांव में 52 मवास रहते हैं, शनिवार को ब्लाक मुख्यालय में ‘मेरी गांव मेरी सड़क योजना’ के तहत टेंडर प्रक्रिया पूरी होनी थी। आरोप हैं कि भाजपा के लोग नहीं चाहते थे कि गांव तक सड़क पहुंचे और इसका श्रेय किसी और को मिले, इसीलिए उनके लोग बार बार टेंडर निरस्त कराने की मांग पर अड़े हुए थे। आरोप लगाया कि भाजपा नेता धन सिंह रावत के लोग इस पूरी प्रक्रिया को अमली जामा पहनाने में लगे थे और ब्लाक मुख्यालय पर टेंडर प्रक्रिया में धांधली का आरोप भी लगा रहे थे। कहा कि ऐसे ही लोगों के कारण गांव में सड़क नहीं पहुंच पा रही है। ग्रामीणों ने भाजपा नेता के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए उनका पुतला आग के हवाले कर दिया। पुतला दहन में माधवी देवी, प्रेमा देवी, चना देवी, उमा देवी, राधा देवी, चंपा देवी, मोहनी देवी, कमला देवी, मुन्नी देवी, मीना देवी, धनुली देवी, बचुली देवी, नंदी देवी, भागुली देवी, मोहनी देवी, गोपाल सिंह, मदन सिंह, भूपाल सिंह, त्रिलोक सिंह, चान सिंह, पान सिंह, महेश सिंह, देवेंद्र सिंह, राजेंद्र सिंह, गोपाल सिंह, धन सिंह, कुंवर सिंह सहित दर्जनों ग्रामीण मौजूद रहे।
इधर भाजपा नेता धन सिहं रावत का कहना है कि मेरे खिलाफ जबरन माहौल बनाया जा रहा है, जबकि टेंडर प्रक्रिया में सरेआम धांधली हुई, कैसे हमारे पक्ष के लोगों को गुमराह किया गया। गांव के लिए मैंने ही तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के माध्यम से सड़क स्वीकृत कराई थी, गांव में जाकर सारे पेपर दिखाऊंगा दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.