वाह! इंटरनेशनल एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के पहले ही दिन रानीखेत की यशोदा ने तीन स्पर्धाओं में जीते तीन स्वर्ण पदक, बधाई!

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: ताड़ीखेत विकासखंड के राजकीय जूनियर हाईस्कूल पौडा़ कोठार की शिक्षिका यशोदा कांडपाल ने आज से सिंगापुर में शुरू हुई दो दिवसीय इंटरनेशनल मास्टर्स एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के पहले ही दिन तीन स्पर्धाओं में तीन स्वर्ण पदक जीत कर देश -प्रदेश व विकास खंड का नाम रोशन किया है।इस चैम्पियनशिप में एशिया से 10 देशों ने प्रतिभाग किया।
आज से सिंगापुर में आरम्भ हुई दो दिवसीय इंटरनेशनल मास्टर्स एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में यशोदा कांडपाल ने
ने पहले ही दिन ऊंची कूद, त्रिपग कूद और बाधा दौड़ में स्वर्ण पदक जीते। हालांकि बाधा दौड़ को पूरा करते यशोदा चोटिल हो गई,उनके पैर में चोट आई। चिकित्सक के परीक्षण व उपचारोपरांत यशोदा ने दूरभाष पर बताया कि अब सब सामान्य है।
ज्ञात हो कि इससे पूर्व यशोदा कांडपाल राष्ट्रीय सिविल सर्विस मीट खेल चुकी हैं।इसके अतिरिक्त पूर्व में यशोदा ने आल इंडिया मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में दमदार प्रदर्शन कर बाधा दौड़, ट्रिपल जंप और ऊंची कूद में तीन स्वर्ण पदक जीते थे। चार दिनों तक चली आल इंडिया मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप का आयोजन हरियाणा के पंचकूला में हुआ था। जिसमें शिक्षिका यशोदा ने तीन स्वर्ण पदक जीतकर उत्तराखंड का नाम रोशन किया था। इतना ही नही पिछले माह दूसरी ‘खेलो मास्टर्स गेम्स प्रतियोगिता में ताड़ीखेत विकासखंड की इस शिक्षिका ने चार सौ, 100 मीटर बाधा दौड़ में स्वर्ण तथा त्रिपग कूद स्पर्धा में कांस्य पदक जीतकर प्रदेश व विकास खंड का नाम रोशन किया था। खेलो मास्टर्स गेम्स फाउंडेशन द्वारा दिल्ली के त्यागराज स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में गत 30 अप्रैल से 3 मई तक आयोजित हुई थी। इधर आज इंटरनेशनल चैम्पियनशिप में तीन स्वर्ण पदक जीतने पर खेल प्रेमियों में हर्ष व्याप्त है। क्षेत्र के खेल प्रेमियों ,शिक्षक समुदाय ने यशोदा कांडपाल की इस सफलता पर उन्हें बधाई दी है।

यह भी पढ़ें 👉  जी•डी • बिरला मैमोरियल स्कूल रानीखेत में शुरू हुआ दो‌ दिवसीय साहित्यिक,दृश्य एवं कला प्रदर्शन उत्सव-2022

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *