बीजेपी अध्यक्ष कौशिक के कथित भ्रष्टाचार की सी बी आई जांच की मांग

ख़बर शेयर करें -

पूर्व मंत्री व बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक पर हरिद्वार में पुस्तकालय निर्माण में डेढ़ करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर की गई है। याचिकाकर्ता ने मामले में सीबीआई जांच की मांग की है। याचिका पर बुधवार को सुनवाई होगी। 
दून निवासी सच्चिदानंद डबराल की ओर से उच्च न्यायालय नैनीताल में मदन कौशिक के खिलाफ दायर की गई याचिका में कहा गया है कि कौशिक ने हरिद्वार के विधायक रहते वर्ष 2010 में विधायक निधि से डेढ़ करोड़ रुपए की धनराशि बारह पुस्तकालयों के निर्माण के लिए अवमुक्त की लेकिन आज तक यह पुस्तकालय धरातल पर नहीं हैं जबकि डेढ़ करोड़ राशि इस हेतु भुगतान की जा चुकी है। जिन स्थलों पर पर पुस्तकालय बने दिखाए हैं वहां पर बारातघर, निजी आवास, धर्मशालाएं हैं। इन पुस्तकालयों के निर्माण का जिम्मा ग्रामीण अभियंत्रण को दिया गया था जिसके तत्कालीन अभियंता ने बिना अस्तित्त्व में आए पुस्तकालयों का निरीक्षण किया और रिपोर्ट के आधार पर तत्कालीन मुख्य विकास अधिकारी ने डेढ़ करोड़ का भुगतान कर दिया।याचिका कर्ता डबराल ने मामले की सीबी आई जांच की मांग उच्च न्यायालय से की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.