रानीखेत चिकित्सालय में चिकित्सकों और चिकित्साकर्मियों ने विकसित किया ‘हर्बल गार्डन’, सौंदर्यीकरण के साथ मरीज भी औषधीय पादपों के प्रति होंगे जागरूक

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: रानीखेत क्षेत्र में गोविंद सिंह माहरा राजकीय चिकित्सालय एक ऐसा अस्पताल बनने जा रहा है जहां मरीजों को स्वास्थ्य सुविधाएं मिलने के साथ ही औषधीय पौधों को लेकर जागरूक होने का अवसर मिलेगा। चिकित्सालय में आज इसके लिए अभिनव प्रयोग करते हुए चिकित्सकों ने परस्पर सहयोग से हर्बल गार्डन विकसित करने की शुरुआत की।

यह भी पढ़ें 👉  स्वर्गपुरी पांडवखोली आश्रम में सीज़न का पहला हिमपात, पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश, हिमपात के साथ कडा़के की ठंड

आज चिकित्सालय के प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक, डॉ दीप प्रकाश पार्की की अगुवाई में चिकित्सासकों और चिकित्साकर्मियों ने साझे प्रयास से परिसर में हर्बल गार्डन विकसित किया गया।गार्डन में औषधीय गुणों से भरपूर पौधें मसलन शतावरी, तुलसी,तेजपत्ता,छोटी इलायची कड़ी पत्ता पदम,गिलोय, हरण, आंवला, कासनी, पाषाण बेबी, निर्गुंडी, रीठा, आदि लगाए गए।

यह भी पढ़ें 👉  सिंगल यूज प्लास्टिक के नाम पर प्रशासन कर रहा व्यापारियों को प्रताड़ित, व्यापार मंडल की भूमिका संदिग्ध: हर्ष वर्धन पंत

गार्डन विकसित करने में डॉ दीप प्रकाश पार्की,डॉ.हर्षवर्धन पंत, डॉ नरेश गुलवानी, फार्मेसिस्ट गिरधर सिंह बिष्ट,फिजियोथैरेपिस्ट वर्षा, नेत्र सहायक आरती, वार्ड बॉय सुनील, इंद्र कुमार, अनुसेविका दया देवी ने सहयोग किया। पर। प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक डॉ पार्टी ने बताया कि चिकित्सालय में हर्बल गार्डन विकसित करने का उद्देश्य यहां इलाज के लिए आने वाले रोगियों वह तीमारदारों को औषधीय पादपों के प्रति जागरूक करने के अलावा चिकित्सालय परिसर के नैसर्गिक सौंदर्य को बढ़ावा देना है।

यह भी पढ़ें 👉  गुलाब घाटी में पिकअप वाहन अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिरा,एक की मौत,एक घायल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *