मानव वन्य जीव संघर्ष के प्रकरणों को लेकर वनविभाग और वन्यजीव विशेषज्ञ ने ग्रामीण को जंगल‌ गश्त कराकर‌ किया जागरूक

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: आज ग्राम झड़गांव तोक तया एवम ग्राम कूपी तहसील मौलेखाल जिला अल्मोड़ा में अल्मोड़ा वन प्रभाग के जौरासी वन क्षेत्र अंतर्गत वन विभाग के कर्मचारियों व अधिकारियों द्वारा स्थानीय, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों तथा ग्रामीणों के साथ मानव वन्य जीव संघर्ष के प्रकरणों को लेकर एक जन जागरूकता अभियान चलाया गया।

जागरूकता अभियान के दौरान वन्य जीव विशेषज्ञ राजीव सोलेमन द्वारा विभागीय गश्ती दल के साथ क्षेत्र विशेष में भ्रमण व गश्त किया गया तथा कैमरा ट्रैप व पद चिह्नों की खोजबीन शुरू की गई।
स्थानीय जनता से जनसम्पर्क कर हिंसक वन्य जीव जैसे गुलदार, बाघ व अन्य के व्यवहार संबंधी जानकारी साझा की गई। साथ ही गुलदार व बाघ से स्वयं की सुरक्षा के उपाय बताए गए ताकि जनप्रतिनिधियों के माध्यम से अन्य स्थानीय ग्रामीणों को भी जागरूक किया जा सके।
वन्य जीव विशेषज्ञ द्वारा वन विभाग के गश्ती दल को गुलदार व बाघ की गतिविधियों, पद चिह्न एकत्रीकरण एवम व्यवहार सम्बन्धी तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान किया गया।
उक्त जागरूकता एवम प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान ग्राम प्रधान कूपी श्री सुरेंद्र सिंह रावत, सरपंच कूपी श्री गिरीश जोशी, श्री सुरेंद्र सिंह, वन दरोगा श्री चन्द्रशेखर त्रिपाठी, रेस्क्यू टीम प्रभारी अल्मोडा श्री भुवन लाल टम्टा, वन बीट अधिकारी श्री बलवन्त भंडारी, श्री किशोर चन्द्र, श्री संजय भंडारी, श्री भवान सिंह, श्री हिम्मत सिंह, श्री कंचन भोला, श्री विशाल बिष्ट, श्री शंकर बोरा, विलेज वालंटियर श्री वीरेंद्र सिंह, श्री गिरीश जोशी, अंकित रावत, नदीम खान आदि उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  तृतीय पं ख्यालीराम सती स्मृति शिक्षक सम्मान समारोह में पांच आदर्श शिक्षक हुए सम्मानित, रानीखेत इंटर कॉलेज में भव्य आयोजन
वन्यजीव विशेषज्ञ राजीव सोलोमन