पूर्व दर्जा राज्यमंत्री गिरफ्तार. गैर जमानती वारंट हुआ था जारी.जानें क्या था मामला

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी : गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद कोर्ट में पेश नहीं होने वाले पूर्व दर्जा राज्य मंत्री हरीश पाल को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वह लंबे समय से फरार थे। पुलिस ने कोर्ट में पेश कर उन्हें जेल भेज दिया है।सीएमपी कालोनी, डहरिया निवासी हरीश पाल स्व. एनडी तिवारी सरकार में दर्जा राज्य मंत्री रहे थे।

यह भी पढ़ें 👉  CARE' संस्था द्वारा हिमांशु पाठक व कमल गोस्वामी को 'फोटोग्राफर ऑफ रानीखेत' सम्मान के लिए चुना गया, शीघ्र किया जाएगा सम्मान

एसएसआई विजय मेहता ने बताया कि हरीश पाल के विरुद्ध पत्नी ने बंधक बनाकर मारपीट करने व दहेज प्रताडऩा की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था। वह लंबे समय तक कोर्ट में पेश नहीं हो रहे थे। उनके विरुद्ध कुछ समय पहले गैर जमानती वारंट जारी हुआ। इसके बावजूद भी हरीश पाल कोर्ट नहीं गए। कोर्ट की अनदेखी करने पर पुलिस ने आरोपित की गिरफ्तारी के लिए दबिशें दीं। रविवार की रात उन्हें रोडवेज के स्टेशन से गिरफ्तार किया गया। सोमवार को कोर्ट में पेश कर उन्हें जेल भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  छावनियों की जनता से आपत्ति व सुझाव मांगने के बाद छावनी भूमि प्रशासन नियम में ये हुआ संशोधन,रक्षा मंत्रालय ने अधिसूचना भी जारी की

गौरतलब है 2017 में भी पुलिस ने हरीश पाल को गिरफ्तार किया था। तब पत्नी को भरण पोषण का पैसा नहीं देने पर अदालत ने हरीश पाल के खिलाफ कुर्की वारंट जारी किया था। पुलिस की मानें तो 2001 में ममता की शादी हरीश के साथ हुई थी। दोनों के बीच संबंध बिगडऩे पर दूरियां बढ़ गईं थी। पत्नी ने मकान पर कब्जा करने के बाद उनके खिलाफ भरष पोषण का मुकदमा अदालत में दायर कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *