रानीखेत में एक लाख की रिश्वत लेते लोनिवि के दो इंजिनियर रंगे हाथ पकडे़ गए

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत-:विजिलेंस की टीम ने राष्ट्रीय राजमार्ग खंड लोक निर्माण विभाग रानीखेत के अधिशासी अभियंता महिपाल सिंह कालाकोटी और सहायक अभियंता हितेश कांडपाल को एक लाख रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।उक्त अभियंताओं द्वारा शिकायत कर्ता से बार रैस्टोरेंट हेतु आख्या देने के एवज में उक्त धनराशि की डिमांड की गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  'आजादी का अमृत महोत्सव' के उपलक्ष्य में रानीखेत में ‌‌‌‌‌‌भाजयुमो ने दोपहिया काफिले के साथ निकाली तिरंगा यात्रा

जानकारी के अनुसार शिकायत कर्ता ने वर्ष२०१९अपने रैस्टोरेंट में बार लाइसैंस के लिए जिलाधिकारी के यहां आवेदन किया था।जिसपर जिलाधिकारी ने आवेदन के साथ खाद्य विभाग ,आबकारी विभाग और लोनिवि की आख्या देने को कहा गया।दो विभागों की आख्या मिलने के बाद लोनिवि के उपरोक्त अभियंताओं ने आख्या देने के एवज में शिकायत कर्ता से 3लाख रूप ए की मांग की ,बाद में एक लाख में बात तय हुई।इधर शिकायतकर्ता ने पुलिस अधीक्षक सतर्कता को इस बावत पत्र लिख कर शिकायत की।इस पर पुलिस अधीक्षक ने सतर्कता विभाग की एक टीम गठित की, जिसने आज रानीखेत मालरोड स्थित लोनिवि राष्ट्रीय राजमार्ग खंड के दोनों अभियंताओं को एक लाख रुपया शिकायत कर्ता से लेते हुए रंगे हाथ पकडा़।सतर्कताटीम ने इंजिनियरों के आवास और कार्यालय से फाइल, दस्तावेज भी जब्त किए हैं।उनके बैंक खाते व प्रापर्टी की भी जांच की जारही है।सत्त्तर अधीक्षक ने ट्र्ऐप टीम को इनाम देने की घोषणा की है।कल दोनों गिरफ्तार इंजिनियरों को सतर्कता न्यायालय देहरादून में पेश किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  आर्मी पब्लिक स्कूल रानीखेत के विद्यार्थियों ने आजादी की ७५वीं वर्षगांठ पर नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति से आजादी के नायकों का कराया स्मरण

Leave a Reply

Your email address will not be published.