लो जी, गेहूं आटा कीमतों में इजाफे के बीच‌आ गई राहत भरी खबर,अब केंद्र सरकार ‘भारत आटा’ बेचेगी।कीमत होगी 29.50प्रति किलो

ख़बर शेयर करें -

महंगाई से परेशान आम उपभोक्ताओं के लिए राहत भरी खबर है।बढ़ती महंगाई पर नियंत्रण पाने के लिए केंद्र सरकार के स्तर से बड़ा कदम उठाया गया है. निजी कारोबारियों और फर्मां की मनमानी को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने खुद ही आटा बेचने का निर्णय लिया है. केंद्र सरकार जिस आटे को बेचेगी. उसका नाम भारत आटा रखा गया है. इसकी कीमत 29.5 रुपये प्रति किलोग्राम होगी। कई जगह इस आटे की बिक्री 6फरवरी से शुरू हो जाएगी.

यह भी पढ़ें 👉  केआरसी सेंटर आफिस में 21जून को आयोजित होगा भूतपूर्व सैनिक मेला, सभी भूतपूर्व सैनिकों से मेले में शिरकत कर अपनी समस्याएं बताने की अपील

बता दें कि देश में गेहूं आटे की कीमत में निरंतर इजाफा हो रहा है जिससे केंद्र सरकार भी चिंतित है।इसी‌क्रम में
केंद्रीय खाद्य और सार्वजनिक वितरण के अधिकारियों के स्तर से इसको लेकर एक बैठक की गई. वितरण सचिव संजीव चोपड़ा ने बताया कि भारतीय खाद्य निगम, केंद्रीय भंडार, नेफेड और एनसीसीएफ के अधिकारियों के साथ बैठक की गई. बैठक में तय हुआ है कि ये सभी संस्थान एफसीआई डिपो से 3 लाख मीट्रिक टन तक गेहूं उठाएंगे.इस गेहूं को आटे बनाया जाएगा. उसके बाद खुदरा दुकानों, मोबाइल वैन आदि से उपभोक्ताओं को 29.5 रुपये प्रति किलोग्राम पर आटा बेचना होगा. वहीं, राज्य सरकारों/केंद्र शासित प्रदेशों के निगम, सहकारी समिति, महासंघ या स्वयं सहायता समूहों को भी केंद्र से 23.5 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से गेहूं आवंटित किया जा सकता है. मगर ये उपभोक्ताओं को 29.5 रुपये प्रति किलोग्राम आटा के हिसाब से ही बिक्री करना होगा.