नंदा महोत्सव रानीखेत में स्कूली बच्चों ने लोक नृत्यों से बिखेरी संस्कृति की‌ छटा, पहली बार‌ हुई शकुनाखर प्रतियोगिता

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत: आज प्रातः काल ब्रह्म मुहूर्त में मां नंदा -सुनंदा की प्रतिमाओं की प्राण प्रतिष्ठा के साथ १३२वां नंदाष्टमी महोत्सव का विधिवत् आरंभ हुआ। प्रातः से ही मां के‌ दर्शन व पूजा अर्चना के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ रहीं वहीं सांस्कृतिक मंच पर अंतरविद्यालयी शकुनाखर एवं समूह लोकनृत्य प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।

आज मां नंदा -सुनंदा की प्राण प्रतिष्ठा के बाद हवन अनुष्ठान सम्पन्न हुआ।मां के दर्शनार्थ श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा वहीं सांस्कृतिक मंच‌ पर‌ अंतरविद्यालयी समूह‌ लोक नृत्य प्रतियोगिता खासी आकर्षण का केंद्र ‌‌‌रही। विद्यालयी बच्चों की मनमोहक प्रस्तुतियों को देखने के लिए दर्शक चार घंटे मंत्रमुग्ध बैठे रहे। अंतर विद्यालयी समूह लोकनृत्य प्रतियोगिता के सब जूनियर वर्ग में स्प्रिंग फील्ड पब्लिक स्कूल विजेता, केंद्रीय विद्यालय उप विजेता , जूनियर वर्ग में विवेकानंद विद्या मंदिर विजेता,आर्मी पब्लिक स्कूल उप विजेता और सीनियर वर्ग में एन एनडीएम बीर शिवा स्कूल विजेता, विवेकानंद विद्या मंदिर उप‌विजेता रहे।महोत्सव में पहली बार हुई अंतरविद्यालयी शकुनाखर प्रतियोगिता में मिशन इंटर‌ कालेज प्रथम, राजकीय आदर्श बालिका इंटर कालेज द्वितीय और बीर शिवा सीनियर सेकेंडरी स्कूल तृतीय स्थान‌ पर रहे।

यह भी पढ़ें 👉  स्व. इदरीश बाबा स्मृति सद्भावना फुटबॉल मैच का शुभारंभ,ऐरो स्पोर्ट्स और रानीखेत स्पोर्ट्स क्लब के खिलाड़ियों ने किया बेहतरीन प्रदर्शन

प्रतियोगिता संपन्न होने के बाद छावनी परिषद के नामित सदस्य मोहन नेगी, पूर्व सदस्य संजय पंत ,हस्तशिल्पी भुवन साह‌, और‌ समिति के वरिष्ठ सदस्य भुवन चंद्र सती ने प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरित किए।कल सम्पन्न हुई चित्रकला के पुरस्कार भी वितरित किए गए जिसमें सब जूनियर वर्ग में प्रथम रिचिता साह कनोसा कान्वेंट ,द्वितीय वेदिका दत्त सिटी मांटेसरी स्कूल और‌ तृतीय साक्षी बिष्ट सिटी मांटेसरी स्कूल तथा जूनियर वर्ग में प्रथम रिया आर्या जीजीआईसी,द्वितीय आयुष‌ सिंह ,जवाहर‌ नवोदय ताड़ीखेत तथा तृतीय रितिक साह एन एन डीएम वीर शिवा स्कूल रहे।

यह भी पढ़ें 👉  दरोगा भर्ती 2015 को लेकर बड़ी खबर, दोषियों के विरूद्ध अभियोग पंजीकृत करने के आदेश जारी

कार्यक्रम का संचालन सांस्कृतिक संयोजक विमल सती ने किया। प्रतियोगिता निर्णायक एल एम चंद्रा वह ओम प्रकाश साह रहे।इस अवसर पर‌ नंदा महोत्सव समिति के अध्यक्ष हरीश ‌लाल साह राजेन्द्र प्रसाद पंत,गौरव तिवारी, रामेश्वर प्रसाद गोयल,सोनू सिद्दीकी,गौरव भट्ट, अभिषेक कांडपाल मौजूद रहे।

आज सांस्कृतिक संध्या में संस्कृति विभाग उत्तराखंड के सौजन्य से रात्रि जै नंदा लोक कला केंद्र अल्मोड़ा की टीम लोक सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देंगे।कल५ सितम्बर रात्रि झंकार सांस्कृतिक मंच एवं सोसायटी बागेश्वर की प्रस्तुतियां रहेंगी ६सितम्बर रात्रि प्रवाह सांस्कृतिक एवं जन कल्याण समिति अल्मोड़ा की द्वारा रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे जबकि इसी दिन दिन में उत्तराखंडी पारम्परिक वेशभूषा प्रतियोगिता और बच्चों की कुर्सी दौड़,जलेबी‌दौड़ जैसी मनोरंजक प्रतियोगिताएं और चित्रकला,ऐपण‌ व मेहंदी प्रतियोगिता भी होगी।

यह भी पढ़ें 👉  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर क्षेत्रीय विधायक के अनर्गल वक्तव्य से नाराज़ कार्यकर्ताओं ने फूंका क्षेत्रीय विधायक नैनवाल का पुतला

इधर माँ नंदा देवी महोत्सव के अंतर्गत चल रही कैरम प्रतियोगिता के आज के मैचों के विजेता डबल्स मे प्रदीप व अंकित की जोड़ी ,ललित व राम की जोड़ी व एकल प्रतियोगिता में रिहान, बालम, रविंद्र, अमित, कृपाल माहरा, उमेश बिष्ट, राम सिंह, ने अपने अपने मैचों में विजय प्राप्त की। निर्णायक की भूमिका मे कुलदीप कुमार व प्रदीप रावत व ललित बिष्ट रहे। प्रतियोगिता को देखने काफी संख्या मे दर्शक गण उपस्थित थे।



Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.