रानीखेत में मां नंदा-सुनंदा की मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा के साथ नंदादेवी महोत्सव शुरू, आराध्य देवी के दर्शन और पूजा के लिए श्रद्धालुओं की भीड़

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– पर्यटन नगरी रानीखेत में मां नंदा-सुनंदा की मूर्तियों की स्थापना के साथ शनिवार को ऐतिहासिक मां नंदा देवी महोत्सव की शुरुआत हुई। ब्रह्म मुहूर्त में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मां नंदा-सुनंदा की मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा की गई।इस मौके पर हवन यज्ञ सहित विभिन्न अनुष्ठान संपन्न कराए गए।

यह भी पढ़ें 👉  कविवर सुमित्रानंदन पंत की 124वीं जयंती उनके पैतृक गांव में समारोह पूर्वक मनाई गई, काव्य गोष्ठी आयोजित, साहित्यकार हुए सम्मानित

आज प्रातः ब्रह्म मुहूर्त में मुहुर्त में मुख्य पुरोहित पंत विपिन चन्द्र पंत ने मां नंदा-सुनंदा की मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा कराई। आराध्य देवी की आरती और पूजा अर्चना के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी।मां की सामूहिक आरती उतारी गई। महिलाओं ने भजन कीर्तन कर मां का गुणगान किया। मां को हलवे का भोग लगाया गया।

यह भी पढ़ें 👉  बीर शिवा स्कूल चौखुटिया में पुलिस ने विद्यार्थियों को किया साइबर क्राइम के प्रति जागरूक

संयुक्त मजिस्ट्रेट जय किशन ने भी मां नंदा-सुनंदा के दर्शन कर आशीर्वाद लिया।धार्मिक अनुष्ठान के दौरान राजा लक्ष्मण सिंह बिष्ट रानी अनामिका बिष्ट , नंदा देवी समिति अध्यक्ष हरीश लाल साह, भुवन साह, मुकेश साह, भुवन सती सहित अनेक लोग मौजूद रहे। इधर दिनभर स्कूली बच्चों के रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम से आयोजन स्थल‌ पर मेले सा माहौल रहा।

यह भी पढ़ें 👉  रानीखेत नगर के सौंदर्यीकरण के लिए व्यापार मंडल‌ चयनित स्थानों पर सेल्फी पॉइंट बनाएगा, छावनी परिषद सीईओ से मांगी अनापत्ति