पूर्व सांसद प्रदीप टम्टा ने रानीखेत में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ मुलाकात की,कहा पार्टी जिसको टिकट देगी उसके साथ खड़ा रहूंगा

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत – पूर्व सांसद प्रदीप टम्टा ने आज रानीखेत में कांग्रेस पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ मुलाकात कर लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि पार्टी जिसको भी प्रत्याशी बनाएगी वे उसके साथ दृढ़ता के साथ खड़े रहेंगे।

कहा कि पार्टी ने अब तक उनको बहुत कुछ दिया है। पार्टी जिस किसी को भी प्रत्याशी बनाएगी उसके साथ दृढ़ता से खड़े रहेंगे। कहा कि भाजपा की मोदी सरकार ने भोलीभाली जनता से केवल झूठे वादे किए हैं। मोदी की कोई भी गारन्टी चाहे वो 15 लाख हो, काला धन वापसी की बात हो, प्रत्येक वर्ष 2 करोड़ नौकरियां देने की बात हो सब की सब झूठी गारन्टी निकली। भाजपा केवल धर्म के नाम पर देश को बांटना चाहती है।
आज बैठक में पुलवामा में शहीद 44 सैनिकों की शहादत को याद कर 2 मिनट का मौन रखकर उनको श्रद्धांजलि अर्पित की। प्रदीप टम्टा ने कहा कि पुलवामा की घटना आज तक रहस्य बनी हुई है कहा कि किन कारणों से हमारे सैनिक शहीद हुए उसका पता आज तक नहीं चल पाया जोकि मोदी सरकार की बहुत बड़ी नाकामी का सबूत है। स्थानीय मुद्दों पर प्रदीप टम्टा ने का कि हरीश रावत के कार्यकाल में बनी निकटवर्ती नगरपालिका रानीखेत- चिलियानौला निर्माण के 10 वर्ष तक नई नगरपालिकाओं से कोई कर वसूली नहीं कि जानी थी लेकिन मोदी जी के कार्यकाल में सारे नियमों को ताक में रख नई बनी नगरपालिका में कर वसूली के आदेश दिए जा रहे हैं। जिसका क्षेत्रीय लोग विरोध भी कर रहे हैं, परंतु इससे मोदी सरकार का दोहरा चेहरा भी बेनकाब हुआ है।
बैठक की अध्यक्षता नगर अध्यक्ष उमेश भट्ट ने की एवं संचालन ब्लॉक अध्यक्ष गोपाल सिंह देव ने किया।
कार्यक्रम में महिला जिलाध्यक्ष गीता पवार, नगर महिला अध्यक्ष नेहा माहरा, बसंती डोरियाल, पूर्व ज़िला अध्यक्ष एवं सल्ट प्रभारी महेश आर्या, कॉर्डिनेटर कुलदीप कुमार, एस०सी० विभाग जिलाध्यक्ष ललित मोहन आर्या, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि किशन सिंह अधिकारी, पूर्व प्रधान भुवन सिंह रावत, महिपाल सिंह मेहरा, सुरेंद्र सिंह पवार आदि लोग उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  इस बार उत्तराखंड में 2019 की‌ तुलना में कम हुआ मतदान,पूरे प्रदेश में 53.56मतदान, उदासीन दिखा मतदाता