हवालबाग में आयोजित बहुद्देशीय शिविर में जनता की समस्याओं का हुआ त्वरित निराकरण

ख़बर शेयर करें -

अल्मोड़ा 26 अक्टूबर:- सरकार जनता के द्वार की परिकल्पना को साकार करने के उद्देश्य आज विकास खण्ड हवालबाग के सिमकनी मैदान अल्मोड़ा में जिला प्रशासन द्वारा बहुउद्देशीय शिविर को आयोजन किया गया। इस शिविर में कुल 193 शिकायतें दर्ज की गयी। जिसमें अधिकांश शिकायतें पेयजल, सड़क मार्ग, विद्युत, राजस्व, सिंचाई, पूर्ति, कृषि, वन, स्वास्थ्य, पर्यटन, समाज कल्याण सहित अन्य विभागों की रही। इस अवसर पर जिलाधिकारी वन्दना सिंह ने एक-एक कर सभी शिकायतों को सुना और अधिकांश शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण किया।
                         
  इस शिविर में 08 आधार कार्ड, 28 लोगों का कोरोना टीकाकरण, 16 विकलांग प्रमाण पत्र, 12 बीपीएल प्रमाण पत्र, 04 वृद्वावस्था पेंशन प्रपत्र जमा, 03 दिव्यांग, 02 विधवा, 01 परित्यकता,35 पशुपालको को दवाई वितरण, 05 गौरादेवी योजना फार्म जमा, 02 मातृ वन्दना, 02 मुख्यमंत्री महालक्ष्मी  योजना किट वितरण, 45 नग कृषि यंत्र विक्रय, 16 ली0 रसायन विक्रय एवं समाज कल्याण विभाग द्वारा 04 कान की मशीन, 02 व्हील चीयर, 02 लाठी, 04 कमर बेल्ट, 01 बैशाखी वितरित किये गये। इस दौरान 06 महिला समूहों को बैंक द्वारा सीसीएल प्रमाण पत्र दिये गये।  
                                 
   शिविर में अधिकांश शिकायते पूर्व में आयी आपदा के दौरान लोगों की मकान व ऑगन की दीवार क्षतिग्रस्त होने, पेयजल आपूर्ति समय से न होने की दर्ज गयी। जिस पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार व खण्ड विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि जो ज्यादा गम्भीर क्षेत्र है उन क्षेत्रों को प्राथमिकता से लेते हुये उनका तत्काल निरीक्षण किया जाय और तत्काल आर्थिक सहायत प्रदान की जाय। उन्होंने सभी राजस्व उपनिरीक्षकों को निर्देश दिये कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण कर आपदा से क्षतिग्रस्त परिसम्मत्तियों का आंकलन एक सप्ताह के भीतर जिला अधिकारी कार्यालय को भेजे। उन्होंने सभी कार्यदायी संस्थाओं से जुडे अधिकारियों एवं अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को निर्देश दिये कि जिन सड़कों, गलियों व नालियों का मलबा लोगों के घरों में जा रहा उन क्षेत्रों का भ्रमण तत्काल मलबा हटाया जाय। उन्होंने अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान को निर्देश दिये नगर क्षेत्र में पेयजल आपूर्ति का समय निर्धारित किया जाय और जो अवैध कनेक्शन हैं उन पर तत्काल कार्यवाही करते हुये उन्हें हटाया जाय और जहां पानी नहीं आ रहा है उन क्षेत्रों में वैकल्पिक व्यवस्था से पेयजल आपूर्ति की जाय।
                                   
  इस अवसर पर विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि इस शिविर में जो भी शिकायतें आम जनता द्वारा दर्ज की गयी उन शिकायतों को गम्भीरता से लेते उनका निस्तारण करना सु निश्चित करें। उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा के अनुरूप सरकार जनता के द्वार की परिकल्पना को साकार करने के उद्देश्य से यह शिविर आयोजित किया गया है। उन्होंने कहा कि लोगों अपनी जन समस्याआंे को लेकर जिला मुख्यालय न आने इस बात को ध्यान में रखते हुये यह शिविर आयोजित किया है। उन्होंने सभी उपस्थित लोगों से लगाये गये विभागीय स्टालों से योजनाओं का लाभ उठाने की अपील की।
                                           
 इस अवसर भाजपा जिला अध्यक्ष रवि रौतेला, जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष ललित लटवाल, पूर्व दर्जा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह पिलख्वाल, ब्लाक प्रमुख बबीता भाकुनी, जिला महामंत्री महेश नयाल, कैलाश गुरूरानी,राजेन्द्र बिष्ट, विनीत बिष्ट, नन्दन आर्या, अजय वर्मा, गिरीश चन्द्र खोलिया, मनोज शाह, नवीन बिष्ट, धर्मवीर, सुरेश भट्ट, संयुक्त मजिस्टेªट रानीखेत जय किशन सहित सभी जनपद स्तरीय अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस की 'भारत जोड़ो तिरंगा यात्रा' देश भक्ति गीतों और स्वतंत्रता सेनानियों की गाथा‌ लेकर‌ पहुंची गांव -गांव

Leave a Reply

Your email address will not be published.