कहां के लोग बोले, बी.एस.एन.एल के विरूद्ध आपदा अधिनियम के तहत केस करो डीएम साब’

ख़बर शेयर करें -

मुनस्यारी- इन दिनों बी. एस. एन. एल की लचर सेवाओं के कारण मुनस्यारी के लोग बेहद परेशान है।इंटरनेट सेवा तो धराशायी है ही,मोबाइल से भी सिग्नल गायब हैं,ये स्थिति पिछले पंद्रह दिन से बनी हुई है।बी.एस.एन.एल. की नेट सुविधा बंद होने से आम जनता तो परेशान है ही बैंक, पोस्ट आॅफिस आदि संस्थाओं में भी बिना नेट के कोई काम नहीं हो पा रहा है। क्षेत्र के पंचायत प्रतिनिधि इस अव्यवस्था पर भड़के हुए हैं उन्होंने जिलाधिकारी को पत्र भेजकर विभाग के खिलाफ़ आपदा अधिनियम के धाराओं में मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।
मुनस्यारी में आज 15 दिन से बी.एस.एन.एल. की नेटवर्किग सेवा एकदम बंद चल रही है। जिससे आम आदमी दुःखी हो गया है। बैंक, पोस्ट आॅफिस, कोषागार, जनाधार केन्द्र, जमीन की नकल सहित सभी सरकारी विभागों में इसी विभाग की नेट सुविधा है।
बी.एस.एन.एल. की नेट सुविधा बंद होने से यहां जनता में त्राहि- त्राहि मच जाती है। आपदाकाल में लोग जान हथेली में रखकर बैंक सहित अन्य कामों के लिए तहसील मुख्यालय आ रहे हैं, लेकिन नेट न होने से उन्हें दिन भर इंतजार करने के बाद वापस लौटना पड़ रहा है। यह सिलसिला लंबे समय से चल रहा है।
बी.एस.एन.एल. का हमेशा सीमांत क्षेत्र के प्रति यही उपेक्षात्मक रुख रहता है।
जिला पंचायत सदस्य जगत मर्तोलिया ने आज जिलाधिकारी आनंद स्वरूप को पत्र ईमेल से भेजकर बी.एस.एन.एल.की मनमानी की शिकायत की। कहा कि इसके अधिकारी जनता की तो छोडिए, जनप्रतिनिधियों की भी नहीं सुनते हैं।
मर्तोलिया ने डीएम से मांग किया है कि इस विभाग के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज करते हुए शख्त कार्यवाही की जाय।
मर्तोलिया ने कहा कि विभाग की यही मनमानी जारी रही तो पंचायत प्रतिनिधि विभाग के स्थानीय कार्यालय में तालाबंदी करने के लिए बाध्य हो जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *